Company

ट्विटर के सुरक्षित प्रयोग के लिए इन आसान सुझावों का पालन करें

By Twitter India
Wednesday, 18 March 2020

लोगों को ट्विटर का सबसे सुखद अनुभव प्रदान करने के लिए हम विविध टूल्स पेश करते हैं जो हमारे उत्पाद में इन-बिल्‍ट होते हैं. इनसे लोग क्या देखें और किनसे से संवाद करें, इसे नियंत्रित कर सकते हैं.

हमने दस प्रो-टिप्स की सूची तैयार की है जिसे लोग महज कुछ चरणों और क्लिक्स पर सक्रिय कर सकते हैं. 

  1. अनफॉलो: अगर कोई किसी ख़ास अकाउंट के ट्वीट्स अपने होम टाइमलाइन में नहीं देखना चाहते हैं, तो वे अकाउंट को आसानी से अनफॉलो कर सकते हैं. इसके बाद भी वे जरूरत होने पर उस प्रोफाइल पर जाकर ट्वीट्स देख सकते हैं, बशर्ते कि उस प्रोफाइल के ट्वीट्स प्रोटेक्‍टेड नहीं हो. 
  2. ब्‍लॉक: लोग किसी ख़ास अकाउंट्स को उनसे संपर्क करने, अपने  ट्वीट्स देखने से, और उन्हें फॉलो करने से रोकना चाहते हैं तो उस अकाउंट को ब्लॉक कर ऐसा सकते हैं.
  3. म्‍यूट:  लोग किसी अकाउंट को अनफॉलो या ब्लॉक किये बगैर उसके ट्वीट्स को अपने टाइमलाइम से हटा सकते हैं. ख़ास शब्दों, वार्तालापों, वाक्यांशों, यूज़रनेम, इमोजी या हैशटैग के लिए एडवांस्‍ड म्‍यूट  का प्रयोग भी कर सकते हैं. हम आपको कोई विशेष शब्द, वाक्यांश, यूजरनेम, इमोजी या हैशटैग वाले ट्वीट्स को म्यूट करने का विकल्प मुहैया करते हैं. म्यूट कर देने से आपने नोटिफिकेशन टैब, पुश नोटिफिकेशंस, एसएमएस, ईमेल नोटिफिकेशंस, होम टाइमलाइन, और ट्वीट्स के रिप्लाईज से ये ट्वीट्स निकल जायेंगे. 
  4. डिसेबल रिसीव डायरेक्‍ट मैसेज सेटिंग: लोग रिसीव डायरेक्ट मैसेज सेटिंग को डिसेबल करके, वैसे अकाउंट्स को, जिन्हें वे फॉलो नहीं करते हैं, डीमिंग (DMing) करने से रोक सकते हैं. 
  5. फिल्‍टर्ड नोटिफिकेशंस: लोग प्राप्त होने वाले नोटिफिकेशंस के प्रकार पर अलग-अलग फिल्टर्स प्रयोग कर सकते हैं. म्यूट नोटिफिकेशन से लोगों को अपने नोटिफिकेशंस में अवांछित वाक्यांशों और शब्दों को म्यूट करने की सुविधा मिलती है. फिल्टर्स की मदद से उन्हें कुछ ख़ास प्रकार के अकाउंट्स से मिलने वाले  और कुछ निश्चित समय के लिए नोटिफिकेशंस को डिसेबल करने की सुविधा मिलती है, जैसे की, अगर उनके अकाउंट पर अचानक अटेंशन प्राप्त हो रहा हो. 
  6. प्रोटेक्‍टेड ट्वीट्स: जब कोई व्यक्ति ट्विटर के लिए साइन अप करता है, तो उनके ट्वीट्स स्वतः सार्वजनिक हो जाते हैं, यानी कोई व्यक्ति उनका ट्वीट देख सकता है और उनसे बात कर सकता है. अगर कोई व्यक्ति उनके ट्वीट्स को प्रोटेक्ट कर देता है तो उनका अकाउंट प्राइवेट हो जाएगा और अन्य ट्वीटर यूजर अगर अकाउंट को फॉलो करना चाहें तो उन्हें रिक्वेस्ट भेजना होगा. 
  7. हाइड रिप्‍लाईज़: जो भी चाहें, अपने ट्वीट्स के लिए रिप्लाईज को हाईड (हाईड रिप्लाईज) का चुनाव कर सकते हैं. हर कोई ट्वीट्स पर उभरने वाले ग्रे आइकॉन को टैप करके हाइड किये गए रिप्लाईज को देख सकता है और संवाद कर सकता है. इस प्रकार आपको अपनी बातचीत पर ज्यादा कण्ट्रोल मिलता है, लेकिन इसके बाद भी लोग पूरी वार्तालाप देख सकते हैं. 
  8. सेफ सर्च: सेफ सर्च फंक्शन स्वतन संभावित संवेदनशील कंटेंट और अकाउंट्स को, जिसे लोग सर्च पेज से ब्लाक या म्यूट कर चुके होते हैं, हटा देता है. 
  9. सेंसेटिव मीडिया: लोग वनसे इमेज को देखने से बच सकते हैं, जो संवेदनशील लगते हों. ट्विटर का डिफ़ॉल्ट सेटिंग में व्यवस्था है कि संभावित संवेदनशील सामग्री चेतावनी के पीछे चली जाती है. इसे सेटिंग्स में एडजस्ट किया जा सकता है.
  10. रिपोर्ट: अगर लोगों को ट्विटर पर ऐसा कुछ दिखता है, जो ट्विटर के नियमों के विरुद्ध है, तो उन्हें सबसे पहले  इसे रिपोर्ट करना चाहिये. अकाउंट होल्डर अनुचित और अभद्र आचरण के बारे में सीधे ट्वीट, प्रोफाइल या डायरेक्ट मैसेज करके रिपोर्ट कर सकते हैं या  ट्वीट बिहेव्यिर की रिपोर्ट करने के लिए ट्विटर वेब फॉर्म भर सकते हैं. एक ही रिपोर्ट में एक से अधिक ट्वीट्स शामिल किये जा सकते हैं, जिससे हमें रिपोर्ट की जांच करने में बेहतर सन्दर्भ मिलता है. आजकल हम रिपोर्ट मिलने के बाद 24 घंटे के भीतर पहले से 3 गुना ज्यादा निंदनीय अकाउंट्स को निलंबित करके हटा रहे हैं.
This Tweet is unavailable
This Tweet is unavailable.
@TwitterIndia

Twitter India

‎@TwitterIndia‎ verified

ट्विटर - The official Twitter India account.

Only on Twitter